WordPress Blog का Set Up कैसे करें।

मेरी पिछली ब्लॉग पोस्ट (How to Start a Blog?) में हमने विस्तृत रूप से जाना की किस तरह बिना किसी तकनिकी ज्ञान के कोई भी बड़ी ही आसानी से अपने ब्लॉग की शुरुआत कर सकता है। हमने पिछली पोस्ट में ये भी जाना कि किस तरह से हम दुनिया भर में 20 लाख से अधिक Websites को होस्ट करने वाली बड़ी ही विश्वशनीय Bluehost Hosting के साथ अपने ब्लॉग को कितनी आसानी के साथ प्रारम्भ कर सकते है।

पिछली पोस्ट में हमने WordPress Blog से सम्बंधित सभी मूल तथ्यों को विस्तृत रूप में जाना और समझा। हमने होस्टिंग एवं डोमेन को रजिस्टर करके WordPress को अपने डोमेन पर Install करने तक का सफर तय किया।

अब अगला, जैसा कि मैंने अपने पिछली पोस्ट में वादा किया गया था, मैं आपको सिखाऊंगा एवं दिखाऊंगा कि कैसे आप, आपके ब्लॉग के लिए एक सही और आकर्षक Theme की खोज कर सकते हैं, और अपने ब्लॉग को कैसे अपने अनुसार अनुकूलित (Customize) कर सकते है।

एक थीम का चयन और अपने ब्लॉग को डिज़ाइन कैसे करें?

आपके ब्लॉग की ज़रूरतों में सबसे पहली ध्यान रखने वाली बात है, आपके ब्लॉग का एक चेहरा अर्थात ब्लॉग की डिज़ाइन और ब्लॉग लेआउट। हालाँकि WrodPress ब्लॉग में एक नया वर्डप्रेस थीम स्थापित करना काफी सरल है।

WordPress Dashboard में बाईं और स्थित “Appearance” टैब के अंदर, “Themes” पर क्लिक करें। आपके सामने कुछ लोकप्रिय विकल्पों को प्रस्तुत किया जाएगा। किन्तु आप WordPress.org Themes बटन पर क्लिक करें और मुफ्त थीम खोजें। WordPress.org पर तीन हजार से भी कहीं अधिक मुफ़्त थीम उपलब्ध हैं।

आपके नए ब्लॉग का डिज़ाइन, रंग, संरचना और बनावट आपके द्वारा चुनी गयी Theme पर निर्भर करता है। आपके पाठक या वेबसाइट Visitor सबसे पहले आपकी वेबसाइट/ब्लॉग के रूप रंग से प्रभावित होते है एवं तत्पश्चात वो किसी सामग्री को पढ़ने में अपनी रूचि दिखते है। अतः आप एक ऐसी थीम का चयन करें जो बहुत अच्छी लगे, लेकिन ध्यान रहे की उसकी (Website Theme) की कार्यक्षमता (Functionality) भी आपकी आवश्यकताओं के अनुरूप काम करनी चाहिए।

चलिए मैं आपको यहां वर्डप्रेस डैशबोर्ड में खोज कर अपनी Theme चुनने के लिए कुछ आसान तरीके बताता हूँ। जो की आपको आपकी मनचाही Theme चुनने में आपके लिए सहायक सिद्ध होंगे।

1. विवरण पढ़ें – अधिकांशतः Theme निर्माता उस Theme की विशेषताएँ और कार्यक्षमताओं (Features and Functionality) को एक संक्षिप्त विवरण के रूप में Theme के साथ अंकित किया होता है। अतः आपको Theme उपयोग करने से पहले इसे धयानपूर्वक पढ़ लेना चाहिए। इसे पढ़ने से आपको यह पता लगाने में मदद मिल सकती है कि क्या वह Theme आपकी आवश्यकताओं से मेल खाती है। या आपकी ज़रुरत के अनुरूप है।
2. पूर्वावलोकन करें (Demo Preview) Theme का वास्तव में रूप रंग या बनावट (Layout) असल में किस तरह का है और यह आपके लिए कितना अनुकूलन या योग्य है, इसका अंदाजा लगाने के लिए Theme का (Demo Preview) पूर्वावलोकन ज़रूर करें।
3. रेटिंग देखें – रेटिंग्स, पूर्व उपयोगकर्ताओं द्वारा अपने अनुभव के आधार पर दी जाती है अतः स्टार रेटिंग पूर्वावलोकन करके आप बड़ी सरलता से ये जान सकते है की वह Theme वास्तव में उपयोग करने में कितनी सरल या उपयोगी है।

यदि इतनी खोज परख करने के बाद भी आपको यदि आपकी पसंद की कोई भी ऐसी Theme नहीं मिल रही है जिसे आप उपयोग करना चाहते है, तो चिंता न करें। आप उपलब्ध Theme में से कोई भी अस्थायी रूप से उपयोग में ले सकते है और आप इसे भविष्य में बदल सकते हैं।

एक बार जब आप एक Theme उपयोग करते हैं, तो यह देखकर निराश ना हों कि यह अभी भी पूर्णरूप से उपयोग के लिए तैयार नहीं है या यह अभी भी काफी सही नहीं है। यहाँ यह जान लेना आवश्यक है कि यह तो सिर्फ ब्लॉग का कंकाल मात्र है। इसे आकर्षक बनाने के लिए, आपको इसे सामग्री (पाठ, फ़ोटो, वीडियो, आदि) के साथ भरना होगा।

क्या आपको एक मुफ्त या प्रीमियम (Paid) Theme चुनना चाहिए?

ब्लॉग बनाते समय यह प्रश्न हर एक ब्लॉग बनाने वाले के मन में अवश्य ही आता है कि क्या मुझे एक फ्री WordPress Theme उपयोग में लाना चाहिए या फिर Premium (जो की कुछ मूल्य चुका कर कुछ अतरिक्त विशेषताओं के साथ Theme निर्माता उपलब्ध करवाता है) के साथ जाना चाहिए ?

मेरी राय में, किसी भी ब्लॉग को शुरू करने के लिए हम एक मुफ्त WordPress Theme के साथ अपनी शुरुआत कर सकते है और वैसे भी मुफ्त WordPress Theme काफी अच्छी मात्रा में उपलब्ध है। हमें बस ज़रुरत है तो खोज करने की। लेकिन यदि आप हज़ारों Themes के माध्यम से खोज करना नहीं चाहते, तो आप आसानी से Twenty Twenty या Twenty Twelve Theme के साथ बड़ी ही सरलता से शुरू कर सकते हैं। दोनों फ्री थीम WordPress.org द्वारा प्रस्तुत किए गए हैं और काफी लोकप्रिय भी हैं।

यहाँ आप याद रखें कि अभी एक चुनी गयी Theme के साथ अपने ब्लॉग को शुरू कर सकते है और अपना कार्य जारी रख सकते है और यदि आप कुछ समय बाद अपनी Theme को बदलना चाहते है तो आप बाद में कभी भी एक अलग Theme को चुन सकते हैं। आपके द्वारा बनाए गए सभी पृष्ठ और अन्य सामग्री स्वतः ही एक नए Theme लेआउट में स्थानांतरित हो जाएगी। इसके लिए आपको कोई अतिरिक्त कार्य करने की आवशयकता नहीं है।

यदि आपको कोई भी मुफ्त Theme पसंद नहीं आती है तो आप प्रीमियम (Paid) Theme के साथ भी जा सकते है। ये Theme आमतौर पर Third Party कंपनियों द्वारा डिज़ाइन की एवं बनाई जाती हैं और अलग अलग Websites पर बेची जाती हैं। एकल (Single) उपयोगकर्ता लाइसेंस के लिए मूल्य सीमा 2200/- रुपये से 20,000/- रुपये तक होती है, जो आपके द्वारा चुनी गयी Premium Theme पर निर्भर करता है।

ब्लॉग थीम को अपने अनुकूल बनाना (Blog Theme Customization)

आपका WordPress डैशबोर्ड (Dashboard) बैक एंड लोकेशन है जहाँ आप अपने नए ब्लॉग का संपादन और प्रबंधन (Editing and Manage) करेंगे। यहाँ आपको वो सभी साधन ( Tools) मिलेंगे जिनसे आप अपने ब्लॉग को लिख सकते है, संपादित कर सकते है एवं उनका प्रबंधन कर उन्हें प्रकाशित कर सकते है। यदि आप WordPress में महारथ हांसिल करना चाहते है तो आपको इसकी शुआत WordPress के Dashboard को सीखने से करनी पड़ेगी। क्योंकि डैशबोर्ड ही वो स्थान है जहाँ से आप वर्डप्रेस को संचालित करते है।

WordPress को अपने अनुकूल (Customize) करने के आपके पास असीमित विकल्प है। इसलिए इस “How to Set Up WordPress Blog (WordPress Blog का Set Up कैसे करें।)” गाइड में सब कुछ सम्मलित करना असंभव है। इसके बजाय, मैं आपके ब्लॉग पर लागू होने वाले सबसे महत्वपूर्ण बदलावों को सम्मलित करके बताने का प्रयास करूंगा। इस उदाहरण के लिए, मैं Twenty Twenty Theme का उपयोग करूंगा।

अपने ब्लॉग का लोगो (Logo) बनाना –

आप अपने Bluehost खाते के अंदर, “अपना लोगो बनाएं” टूल पा सकते हैं। जिसके उपयोग से आप अपना एक आकर्षक Logo बड़ी ही सरलता से बना सकते है। यदि आपने अपना ब्लॉग लॉन्च करते समय अभी तक ऐसा नहीं किया है, तो अब इसे बनाने का समय आ गया है।

एक बार जब आप चेकबॉक्स पर क्लिक करते हैं, तो आपको AI- संचालित लोगो निर्माता के पास ले जाएगा। यह एक आसान उपकरण है जिसका उपयोग कर आप सेकंड में अपने ब्लॉग के लिए एक सुंदर लोगो बना सकते हैं। अपने Logo का नाम और Tag Line (यदि आपके पास एक है) दर्ज करके प्रारंभ करें, तो उपकरण स्वचालित रूप से विभिन्न प्रकार के लोगो बना कर आपके लिए प्रस्तुत करेगा।

wordpress

स्वचलित प्रणाली द्वारा बनाये गए कुछ Logo आपको बताये जायेंगे तो अब एक लोगो जो आपो सबसे अधिक पसंद है को, उस पर क्लिक करें और अपने अनुसार इसे और अनुकूलित एवं सम्पादित करें।

wordpress

जब आप अपने लोगो को डिजाइन कर चुके हों, तो डाउनलोड बटन पर क्लिक करें और एक नया पृष्ठ आपके Logo फ़ाइलों के साथ दिखाई देगा जो आपके कंप्यूटर पर सहेजने (Save) के लिए तैयार है।

अपने ब्लॉग का अनुकूलन (Customize) करना

अब, मैं आपको दिखाता हूँ कि आप अपने ब्लॉग को सामान्य रूप से अपने अनुकूलन (Customise) कैसे और कहाँ से कर सकते हैं। हम इसमें अग्रलिखित विषय सम्मलित करेंगे : जैसे आपके द्वारा बनाए गए लोगो (या भविष्य में जो बनाएंगे) को Website/Blog पर अपलोड करना, ब्लॉग शीर्षक (Title) और टैग लाइन (Tag Line) को संपादित (Edit) करना, रंग बदलना, पृष्ठभूमि छवि (Back Ground Image) अपलोड करना और होमपेज (Home Page) सेटिंग्स में बदलाव करना।

जैसा कि मैंने आपको पहले ही बताया कि मैं आपको Twenty Twenty Theme पर इन परिवर्तनों को लागू (Apply) करके बता रहा हूँ। किन्तु यदि आपने एक अलग Theme को चुना है तो प्रक्रिया थोड़ी सी भिन्न हो सकती है। हालांकि, ज्यादातर मामलों में, सभी थीमों में एक समान विकल्प होते हैं।

अपने ब्लॉग को अपने अनुकूल (Customize) करने के लिए, सबसे पहले WordPress एडमिन (Admin) डैशबोर्ड पर जाएं एवं अपने बाईं ओर उपलब्ध मेनू में से Appearance मेनू पर जाकर कस्टमाइज़ (Customize) विकल्प को चुनें। आप इसे नीचे बताये गए चित्र से भी समझ सकते है।

अपने ब्लॉग का अनुकूलन (Customize) करना

प्रत्येक वर्डप्रेस थीम (WordPress Theme) थोड़ी अलग तरह से कस्टमाइज होगी। किन्तु मैं यहाँ आपको Twenty-Twenty Theme के अनुसार Customization के लिए विकल्प दिखाऊंगा।

कस्टमाइज बटन पर क्लिक करने के पश्चात् पैनल में आपको बाईं ओर, निम्न दिए गए मेनू के अनुरूप विकल्प दिखाई देंगे। जिनके उपयोग आप बताये गए प्रकार से कर सकते है।

  • Site identity (साइट की पहचान) – इस विकल्प के माध्यम से आप अपनी वेबसाइट में अपना लोगो (Logo) अपलोड करें । वेबसाइट का शीर्षक और टैगलाइन बदलें और वेबसाइट का आइकन अपलोड करें।
  • Color (रंग) – अपने ब्लॉग की पृष्ठभूमि (Background) का रंग, वेबसाइट का शीर्षक लेख और फूटर का रंग बदलें, और प्राथमिक रंग को भी बदलें यदि चाहें तो।
  • Theme options (थीम विकल्प) – इस विकल्प को तब चुनें जबकि आप अपने ब्लॉग के हेडर में एक खोज आइकन (Search Icon) दिखाना चाहते हैं और अपने पोस्ट के लिए एक “लेखक के बारे में” (Author Bio) विकल्प दिखा सकते हैं।
  • Cover template (कवर टेम्प्लेट) – ओवरले बैकग्राउंड कलर (Overlay Background Color), ओवरले टेक्स्ट कलर (Overlay Text Color) और ओवरले ऑपेसिटी जैसे पेज टेम्प्लेट में यदि चाहें तो अतिरिक्त बदलाव करें।
  • Background Image (बैकग्राउंड इमेज) – कोई भी मनचाही बैकग्राउंड इमेज अपलोड करें जिसे आप अपने ब्लॉग पर इस्तेमाल करना चाहते हैं।
  • Menu (मेनू) – अपने ब्लॉग के मेनू, सोशल मीडिया मेनू और लिंक के प्रदर्शित होने वाले स्थान को बदल सकते है।
  • Widget (विजेट) – अपने फूटर को अपने अनुसार बनायें या अनुकूलित (Customize) करें, अपने कार्य से सम्बंधित सूचना जोड़ें, और आप यहाँ अपने पत्राचार पते के अनुसार एक नक्शा भी जोड़ सकते है जिसकी सहायता से आप तक पहुंचा जा सकता है।
  • Home Page Settings (होमपेज सेटिंग्स) – चुनें कि ब्लॉग के होमपेज पर क्या प्रदर्शित किया जाना है। यह नवीनतम ब्लॉग पोस्ट या एक स्थिर पेज हो सकता है।
  • Additional CSS (अतिरिक्त सीएसएस) – अपनी साइट (उन्नत विकल्प) की उपस्थिति और लेआउट को अनुकूलित करने के लिए अपना सीएसएस (CSS) कोड जोड़ें।

तीन आइकन: डेस्कटॉप, टैबलेट और मोबाइल उपकरणों के साथ नीचे दिए गए मेनू का उपयोग करके आपका ब्लॉग विभिन्न उपकरणों पर कैसा दिखता है, आप यह भी देख सकते हैं।

कई Theme (जैसे कि Twenty-Twenty Theme) नए गुटेनबर्ग ब्लॉक एडिटर के साथ आते हैं जो उपयोगकर्ताओं को अपने पेज बनाने और वर्डप्रेस के अंदर पोस्ट लिखने के तरीके में एक क्रांतिकारी उपयोगी साधन हैं।

गुटेनबर्ग एक Visual Editor है जो एक ब्लॉक बनाने के नियम पर काम करता है। इसलिए, जब भी आप अपनी पोस्ट में एक नया पैराग्राफ, हेडिंग, इमेज, वीडियो, या कुछ और जोड़ने का निर्णय लेते हैं, तो कुछ पूर्व निर्मित ऐसे ब्लॉक होते हैं जिनका उपयोग करके आप जल्दी से नए पेज या ब्लॉग में अपनी नयी पोस्ट जोड़ सकते हैं।

इस तरह, ब्लॉग सामग्री बनाना शुरुआती समय में नए लोगों के लिए बहुत ही आसान बन जाता है, चाहे आप लैंडिंग पृष्ठ का निर्माण कर रहे हों या एक नया लेख लिख रहे हों। ब्लॉक का उपयोग करके आपके पसंदीदा लेआउट में लिखा या व्यवस्थित किया जा सकता है। अतः ब्लॉक इस तरह के आपके कार्यों को बड़ा ही आसान बना देता है।

अपने ब्लॉग में Plug-In जोड़ना

सर्व प्रथम हमें यहाँ ये जान लेना आवश्यक है कि आखिर प्लग इन (Plug In) होते क्या है ?

Plug In असल में कुछ कोड (Code) के बंडल हैं जो आपकी साइट को देखने और उसके कार्यों को प्रभावित करते हैं। वे आपके वर्डप्रेस ब्लॉग में नई कार्यक्षमता जोड़ सकते हैं, अपनी थीम की क्षमताओं का विस्तार कर सकते हैं, और एक ब्लॉग को संपूर्ण या आंशिक रूप से आपके अनुसार आपकी वेबसाइट को बनाने में मदद कर सकते है।

हालांकि WordPress के Plug In संग्रहण में अधिकांश प्लग इन मुफ्त है, किन्तु कई ऐसे हैं जो की अधिक प्रभावी रूप से कार्य करते है तथा वे आपको सशुल्क प्राप्त करने होते है। फिलहाल, WordPress.org के पास रिपॉजिटरी में 57,000 से अधिक विभिन्न प्लगइन्स शामिल हैं।

जब आप अपना ब्लॉग सेट करते हैं, तो Bluehost अपने आप ही कुछ प्लगइन्स जो कि किसी भी वेबसाइट के लिए महत्वपूर्ण हैं आपकी सुविधा के लिए आपके WordPress में जोड़ देगा। आहालांकि आप अपने WordPress के डैशबोर्ड के द्वारा इन प्लग इन की पुनः समीक्षा (Recheck) कर सकते हैं और बाईं ओर Plug In टैब पर क्लिक करके निचे चित्र में दिखाए अनुसार यदि आप चाहें तो अपनी सुविधा के अनुरूप नए Plug In भी जोड़ सकते हैं।

अपने ब्लॉग में Plug-In जोड़ना

यहां आप नए Plug In को इंस्टॉल (Install) कर सकते हैं, निष्क्रिय (Deactivate) कर सकते हैं, हटा (Remove) सकते हैं और उन्हें अपडेट (Update) कर सकते हैं।

नीचे, मैं आपको कुछ सुझाए गए प्लगइन्स दिखाऊंगा जिनका आपको उपयोग करना चाहिए।

कुछ Recommended Plug Ins की लिस्ट निम्न है –

MonsterInsights – आपकी वेबसाइट के ट्रैफिक को समझने और उसके विश्लेषण करने में सहायक है।

Yoast SEO – अपने ब्लॉग के लिए एक बड़ा ही उपयोगी SEO Plug In, जो की सर्च इंजन के लिए आपके ब्लॉग या वेबसाइट को अनुकूल बनाने में आपकी सहायता करता है।

WP Super Cache – आपके वर्डप्रेस ब्लॉग के लोड समय को काम करने में मदद करता है और आपके पाठकों के लिए तेजी से सामग्री उपलब्ध करता है।

Akismet – आपकी टिप्पणियों (Comments) और संपर्क फ़ॉर्म (Contact Form) को स्पैम (Spam) से बचाता है और आपकी साइट को गलत तरीके से प्रकाशित करने से रोकता है

Contact Form 7 – बड़ा ही आसान एवं आवशयकता अनुरूप ईमेल विकल्पों के साथ एक Contact Form। यह कैप्चा और अकिस्मेट स्पैम फ़िल्टरिंग के साथ भी काम करता है।

Disqus – यह WordPress द्वारा उपलब्द्ध साधारण Comment प्रणाली से उन्नत एवं प्रभावी कार्य क्षमताओं सहित एक Comment प्रणाली के लिए उपलब्ध प्लग इन है।

YARPP – लोगों को आपकी साइट बार बार विजिट करने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए Post के अंत में संबंधित ब्लॉग पोस्ट सूची बनाता है। जिससे की पाठकों को सम्बंधित पोस्ट ढूंढना आसान बन जाता है।

बधाई हो, अब आप यहाँ यह जान चुके है कि कैसे अपने ब्लॉग को अपने अनुसार कस्टमाइज़ करें एवं कैसे इसकी डिज़ाइन में बदलाव करें। आगे के लेखों में हम सीखेंगे की किस प्रकार WordPress Blog का उपयोग करके हम एक पोस्ट रचना कर सकते है एवं उसे किस तरह से प्रकाशित किया जाता है।